जानें, आखिर कौन है ये जवान जिसकी तस्‍वीर सोशल मीडिया पर तेजी से हो रही है वायरल

जहाँ हम सब न्यू ईयर का स्वागत कर रहे थे, वहीँ हाल ही में 28 दिसंबर को मुंबई में कमला मिल्स कम्पाउंड के मोजोज़ रेस्टोरेंट और 1-Above पब में बहुत ही भीषण आग लग गई, जिसने 14 लोगों की जान ले ली। इस हादसे में कई लोग बहुत ही गंभीर रूप से घायल हो गये। इस घटना के दौरान स्थानीय पुलिस और फायर ब्रिगेड ने कई लोगों की जान बचाई।

इस घटना की जानकारी मिलते ही तुरंत इस परिसर के सबसे नजदीक वर्ली पुलिस स्टेशन के जवान फायर ब्रिगेड से पहले पहुंचकर राहतकार्य में जुट गए। वर्ली पुलिस स्टेशन के बहादुर जवान सुदर्शन शिंदे ने  इस घटना स्थल पर बिना स्ट्रेचर के कई लाशें निकालीं। देखा जाए तो सुदर्शन शिंदे ने भीषण आग में  7वें मंजिल पर जाकर तीन लाशें नीचे लाए। जिनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है।

इस घटना की कुछ बात सुदर्शन शिंदे ने खुद बताया कि- ‘जब मैं ऊपर पहुंचा तो सब कुछ जल चुका था। शराब की बोतलों और गैस सिलेंडर से विस्फोट की आवाजें आ रही थीं। वहां कुछ हुक्का भी रखे हुए थे, जो आग को और बढ़ा दे रहे थे। वहीँ मुझे एक महिला दिखी जो खांस रही थी। शायद घुटन की वजह से उन्होंने बाद में दम तोड़ दिया।’

यह भी पढ़े : अगर आपके पास भी है पांच रुपये केे ये नोट तो आप भी बन सकते हैं लखपति, जानें कैसे

वहां पर सुदर्शन शिंदे के अलावा सूरज गिरी और महेश साब्ले जैसे पुलिसकर्मियों भी मौजूद थे।  इस घटना में 14 लोगों की मौत और 21 अन्य लोग घायल हो गए। यह आग इतनी भीषण थी कि आग तेजी अपने पास के अन्य पब और एक रेस्टोरेंट में फैल गई। इस आग को  काबू करने के लिए दमकल की 12 से अधिक गाड़ियां पहुंची थी। जिस पर अगले दिन सुबह करीब 6.30 बजे काबू पाया गया।

देखें वीडियो:

इस मामले में 1-Above पब के दो मैनेजर्स को गिरफ्तार कर लिया है, जिनका नाम केविन बाबा और लूपस है। लोगो कि माने तो यह बताया जा रहा है कि 28 दिसंबर की रात जब मोजोज़ रेस्टोरेंट और 1-Above पब में आग लगी उस वक्त ये दोनों वहां मौजूद थे।
Share this on

Leave a Reply