Tuesday, November 21News That Matters

खिताब के साथ विजेंदर सिंह ने देशवासियों का दिल भी जीता, चीनी बॉक्सर को हराने के बाद चीन को दिया Peace Punch

भारत के स्टार मुक्केबाज तथा ओलंपिक में कांस्य पदक विजेता विजेंदर सिंह ने प्रॉफेश्नल बॉक्सिंग चैंपियनशिप के आखरी मैच में चीनी बॉक्सर जुल्पिकार मियामैतियाली को मुंबई में हुए चैंपियनशिप में हरा दिया। आपको बता दे की इस जीत के साथ विजेंदर सिंह ने एशिया पैसिफ़िक सुपर मिडिलवेट और WBO ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट ख़िताब अपने नाम कर लिया। आपकी जानकारी के लिए बता दे की विजेंदर पहले से ही WBO एशिया पसिफिक मिडिलवेट चैंपियन थे, जबकि जुल्फिकार WBO ऑरियंटल सुपर मिडिलवेट चैंपियन थे। मैच जीतने की खुशी उस वक़्त वहाँ मौजूद सभी दर्शकों को हैरत मे दाल दिया जब विजेंदर सिंह ने जुल्पिकार को उनका बेल्र्ट वापस कर दिया।

आपको बता दे की विजेंदर के इस फैसले ने वहाँ मौजूद कई बॉलीवुड हस्तियों को हैरान कर दिया मगर जब विजेंदर ने कहा, ये ख़िताब चीनी बॉक्सर जुल्पिकार मियामैतियाली को देता हूँ। सीमा पर शांति के लिए मैं ऐसा कर रहा हूं, मैं चाहता हूं कि दोनों देशों में शांति बनी रहे।” आपको बता दे की विजेंदर ने जब ऐसा कहा तो समूचा रिंग और वहाँ मौजूद हर एक शक्स के मुह से बरबस ही निकाल पड़ा, “वाह”। विजेंदर सिंह के इस अविश्वनीय फैसले ने वहाँ मौजूद तमाम भारतीय समर्थकों का दिल जीत लिया। बता दे की विजेंदर सिंह ने अपने प्रोफेशनल बॉक्सिंग में लगातार नौवीं जीत हासिल की। मुंबई में चीनी मुक्केबाज जुल्फिकार मैमैतियाली को 10 राउंड तक चले रोचक मुकाबले में मात दी। अंकों के लिहाज से तो मुकाबला बराबर रहा लेकिन तीनों मैच रेफरियों नें एकमत होकर विजेंदर को विजेता घोषित किया।

विजेंदर के खिलाफ 3 बार जुल्फिकार मैमैतियाली ने फाउल किया जिसकी वजह से विजेंदर परेशान हो गए थे। नवें राउंड में उवकी नाक से भी खून आने लगा था। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। विजेता घोषित किए जाने के बाद विजेंदर ने जुल्फिकार मैमैतियाली को खिताब लौटाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सीमा पर शांति के लिए मैं ऐसा कर रहा हूं। मैं चाहता हूं कि दोनों देशों के बीच पीस रहे।विजेंदर से जब पूछा गया कि वो कुछ थके हुए दिख रहे थे तो उन्होंने कहा जुल्फिकार के तीन फाउल शॉट्स की वजह से वो परेशान हो गए थे। 9वें राउंड में तो पहले विजेंदर की नाक से खून निकलने लगा। उसके बाद जुल्फिकार ने उनके प्राइवेट पार्ट पर ही पंच जड़ दिया। इसके बाद विजेंदर जमीन पर बैठ गए। लेकिन विजेंदर ने मजबूत इरादे दिखाए और वापसी की।

शुरुआती तीन राउंड तक दोनों मुक्केबाज बराबरी पर दिख रहे थे। पलड़ा थोड़ा सा जुल्फिकार की तरफ झुक रहा था लेकिन इसके बाद विजेंदर ने वापसी की और बढ़त बनाइ। इसके बाद एक बार फिर जुल्फिकार ने वापसी की। लेकिन छठे राउंड के बाद दोनों मुक्केबाजों पर थकान हावी होने लगी। हालांकि मैच काई रोमांचक और संघर्षपूर्ण था, लेकिन मैच जीतने के बाद विजेंदर ने चीनी बॉक्सर को नौसिखिया करार दिया।

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: