Google Tez Vs BHIM Vs Whatsapp UPI : कौन सा पेमेंट ऐप है आपके लिए सबसे बेहतर और क्यों

इंटरनेट के लगातार बढ़ते इस्तेमाल के बीच Whatsapp ने अपनी लोकप्रियता को और भी बढ़ाने के लिए अपने ग्राहकों के लिए यूपीआई भुगतान सुविधा शुरू कर दी है जो आईओएस और एंड्रॉइड यूजर्स के लिए उपलब्ध है। ऐसा बताया जा रहा है की व्हाट्सएप के जरिये आप प्रतिदिन करीब 5,000 रुपये तक का लेन-देन कर सकते हैं।

फिलहाल ऐसा माना जा रहा है की व्हाट्सएप द्वारा शुरू की गयी इस नई सुविधा के साथ अब व्हाट्सएप अन्य यूपीआई एप जैसे BHIM और Google TEZ आदि को सीधे टक्कर दे सकता है। आज हम आपको बताएँगे की यूपीआई भुगतान के इस दौर में आपके लिए कौन सबसे बेहतर हो सकता है।

UPI

Google Tez App

Google द्वारा शुरू किया गया पेमेंट सिस्टम Google TEZ, सितंबर 2017 में लॉन्च हुआ था, एप एंड्रॉइड और आईओएस दोनों यूजर्स के लिए उपलब्ध है। आपकी जानकारी के लिए बता दें की मोबिकविक या पेटीएम की तरह यह कोई मोबाइल वॉलेट नहीं है, यह पूरी तरह से यूपीआई पर बनाया गया है और इसकी मदद से ग्राहक अपने बैंक खातों के माध्यम से प्रत्यक्ष धन हस्तांतरण की अनुमति दे सकते हैं।

Google Tez इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को ये सुविधाएं मिलती है,

सभी TEZ ग्राहक यूपीआई एप के जरिए एक दिन में 1 लाख रुपये तक भेज सकते हैं।

सभी TEZ ग्राहक यूपीआई एप के जरिए एक दिन में अधिकतम 20 बार लें दें कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : ये सात बैंक अपने ग्राहकों को देते हैं सबसे जल्दी और सस्ता लोन, जानिए कौन से हैं बैंक

BHIM UPI App

BHIM यानी की भारत इंटरफेस फॉर मनी, यह भी एक भुगतान एप है जो यूजर्स को यूपीआई का उपयोग करके बेहद सरल, आसान और फटाफट लेनदेन करने की अनुमति देता है। ग्राहक यूपीआई पर किसी भी व्यक्ति को ‘यूपीआई आईडी’ या BHIM एप के साथ अपने क्यूआर कोड स्कैन करके सीधे बैंक भुगतान कर सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की कोई भी ग्राहक BHIM एप की मदद से एक दिन में अधिकतम 20,000 रुपये और बैंक खाते से अधिकतम 40,000 रुपये तक का लेन-देन कर सकता है।

Whatsapp UPI

WhatsApp UPI

हालांकि अभी तक WhatsApp UPI भुगतान एप लॉन्च नहीं किया गया है मगर बताया जा रहा है की इसके आने के बाद इस क्षेत्र में कई बदलाव देखने को मिल सकते हैं। ऐसा बताया जा रहा था की कुछ दिनों में पूरे भारत के लिए व्हाट्सएप भुगतान एप लॉन्च कर दिया जाएगा, यह भी जानकारी थी की व्हाट्सएप पैसों के लेन-देन के लिए प्रमुख निजी क्षेत्र के उधारदाताओं – एचडीएफसी बैंक लिमिटेड, आईसीआईसीआई बैंक लिमिटेड और एक्सिस बैंक लिमिटेड के साथ भागीदारी कर सकता है और इसमे भारत क सबसे बड़ी बैंकिंग इकाई एसबीआई भी शामिल हो सकती है।

असल मे WhatsApp ने अपना बहुत ही बड़ा नेटवर्क बना रखा है और भारत में अपने विशाल उपयोगकर्ता के आधार पर वह बैंकिंग क्षेत्र में आ रहा है। शायद आपको इस बात की जानकारी ना हो की इस मैसेजिंग एप के देशभर में करीब 200 मिलियन से भी ज्यादा उपयोगकर्ता हैं और आए दिन इसमे बढ़ोतरी ही हो रही है। संभव है की अपने विशाल नेटवर्क की वजह से WhatsApp UPI अन्य सभी से काफी आगे निकाल सकता है।

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on

Leave a Reply