Thursday, December 14

भारत ने पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तान के साथ किए कई एहम समझौते, सुषमा बोलीं- हमेशा कंधा मिलाकर खड़े हैं पड़ोसी के साथ

अपने पड़ोसी देश अफगानिस्तान के विदेश मंत्री सलाउद्दीन रब्बानी इन दिनो अपने दो दिवसीय दौरे पर भारत में हैं। बता दे की रब्बानी ने इस दौरान भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात कर दोनों देशों के सम्बन्धों को और भी मजबूत बनाने को लेकर खास मुद्दों पर वार्ता करते हुए इंडिया अफगानिस्तान स्ट्रैटजिक पार्टनरशिप काउंसलिंग के तहत कई प्रकार के समझौतो पर हस्ताक्षर किए। बता दे की भारत और अफगानिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ साझा लड़ाई के प्रति प्रतिबद्धता दोहराते हुए चार अहम समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

इस दौरान सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत, अफगानिस्तान के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करता रहेगा। गौरतलब है कि अफगानिस्तान पर अमेरिका की नीति में आए बदलाव के बाद इस वार्ता को बेहद अहम माना जा रहा है। साझा प्रेस कांफ्रेंस में सुषमा ने कहा कि दोनों देशों का रिश्ता भरोसे पर आधारित है। दोनों देश सीमा पार से चलाए जा रहे आतंकवाद के खिलाफ एकजुट हैं। जहां तक भारत का सवाल है तो हम अफगानिस्तान में शांति, स्थिरता और विकास के लिए कंधे से कंधा मिला कर काम करते रहेंगे। सुषमा स्वराज ने कहा कि हम दोनों देश सीमा पार आतंकवाद की चुनौतियों पर काबू पाने में एकजुट रहते हैं।

चर्चा के दौरान अफगानिस्तान के विदेशमंत्री रब्बानी ने अपने यहां आतंकवाद के लिए पाकिस्तानी आतंकी संगठनों को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि दोनों ही देश पाकिस्तानी स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-ताइबा और जैश-ए-मोहम्मद व अन्य आतंकी संगठनों के आतंक से पीड़ित हैं।

बताना चाहेंगे की रब्बानी ने कहा कि भारत के साथ हमारा लगाव का मतलब ये नहीं है कि हम किसी दूसरे राष्ट्र से शत्रुता का भाव रखते हैं। भारत पहले से ही अफगानिस्तान में 200 करोड़ रुपये के सहयोग कार्यक्रम के तहत काम कर रहा है। भारत की मदद से अफगानिस्तान में सड़क निर्माण और अस्पतालों का निर्माण किया जा रहा है। भारत में अफगानिस्तान की पुलिस व सैन्य अधिकारियों को भी विशेष ट्रेनिंग दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: