LIC ग्राहकों के लिए आवश्यक सूचना, अगर नहीं किया ये काम तो डूब सकता है आपका पैसा

हर व्यक्ति अपना और अपने परिवार का भविष्य सुरक्षित रखने के लिए कोई ना कोई पॉलिसी लेता हैं, ऐसे में आपने भी लिया होगा| लेकिन यदि आपने LIC (लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन) की कोई पॉलिसी ली हैं तो यह खबर आपके लिए जानना बहुत जरूरी हैं क्योंकि यह खबर आपके लाभ के लिए हैं और यदि आपने इस खबर को अनदेखी कर दी तो आपके एलआईसी पॉलिसी के मैच्योरिटी का पैसा डूब या फंस सकता हैं और इसकी वजह से आपको आगे चलकर बहुत परेशानी उठानी हो सकती हैं|

LIC ग्राहक यहाँ ध्यान दें, अगर नहीं किया ये काम तो डूब सकता है आपका पैसा

LIC का नया नियम

दरअसल आपने यदि एलआईसी पॉलिसी में अपना अकाउंट नहीं जुड़वाया हैं तो आपको एलआईसी पॉलिसी से मिलने वाली धनराशि फंस सकती हैं| आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पहले एलआईसी अपने ग्राहकों को चेक के जरिये भुगतान करती थी| लेकिन अब एलआईसी ने ऐसा करना बंद कर दिया हैं यानि एलआईसी अब अपने ग्राहकों के लिए नया नियम लागू किया हैं|

अब एलआईसी अपने पॉलिसीहोल्डर्स को मैच्योरिटी या किसी भी धनराशि को नेफ्ट के जरिये ग्राहकों के खातों में भेजती हैं और इसके लिए एलआईसी पॉलिसी को बैंक अकाउंट से जुड़वाना आवश्यक हो गया हैं| कंपनी ने अपने पॉलिसी होल्डर्स को किसी भी तरह के भुगतान को सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर करने के लिए अनिवार्य कर दिया हैं|

यह भी पढ़ें : LIC ने पेश की ये खास पॉलिसी, रोज मात्र 14 रुपए खर्च कर आप भी पा सकते हैं 15 लाख का जीवन बीमा

LIC ग्राहक यहाँ ध्यान दें, अगर नहीं किया ये काम तो डूब सकता है आपका पैसा

पॉलिसी में अकाउंट जुड़वाने के लिए ये करे

यदि आपका एलआईसी मेच्योर होने वाला हैं और आपको पैसे मिलने वाले हैं तो एलआईसी पॉलिसी में बैंक अकाउंट लिंक करने के लिए अपने बैंक अकाउंट का कोई भी कैंसिल चेक या पासबुक का फोटोकॉपी लेकर एलआईसी ऑफिस जाए और वहाँ नेफ्ट मैडेत फार्म को सही तरह से भरकर जमा कर दे| ऐसा करने से आपको एलआईसी पॉलिसी के पैसे और लाभ घर बैठे ही आपके अकाउंट में आ जाएंगे| इसके लिए आपको ज्यादा मेहनत भी नहीं करनी पड़ेगी क्योंकि पैसे सीधे आपके अकाउंट में भेजे जा रहे हैं| दरअसल आजकल ऑनलाइन पेमेंट करने का जमाना हैं, ऐसे में एलआईसी ने भी यह पहल की हैं ताकि उसके ग्राहकों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होगी और उनके पैसे भी आसानी से मिल जाएंगे|

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on