अब जल्‍द ही गूगल बंद करने जा रहा है Google Plus, 5 लाख यूजर्स के डेटा पर लगी थी सेंध

गूगल प्लस, गूगल की सोशल नेटवर्किंग सर्विस है। इसको शार्ट में Google Plus भी लिखते है। इसकी सात वर्ष पहले शुरुआत हुई थी। इसके जरिए आप और हम अपने रिश्तेदारों,दोस्तों,परिवार,ऑफिस कलिग के अलग-अलग समूह बना सकते है। गूगल प्लस देखने फेसबुक और ट्वीटर जैसा होता है लेकिन इसको यूज करने के बाद का अनुभव अलग ही होता है। इसको बहुत कम लोग ही इस्तेमाल करते है। इसी वजह से कई सारे लोग गूगल प्लस का इस्तेमाल नहीं करते। जैसा हमने आपको बताया की गूगल प्लस फेसबुक के जैसा होता है तो फेसबुक में जैसे हम ग्रुप्स बनाते है वैसे ही गूगल प्लस में कम्युनिटीज बनाई जाती है।

Google I/O 2018 : गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने किया बड़ा एलान, Gmail, Google News समेत अन्य में भी होंगे बड़े बदलाव

आप इसमें अपने मन से कोई भी कम्युनिटी चून सकते हो या फिर चाहो तो अपनी कम्युनिटी भी बना सकते हो। फेसबुक में जैसे पेजेज होती है ठीक वैसे ही Google Plus भी हमे पेज बनाने की सुविधा उपलब्ध करती है लेकिन इस पेजेज का इस्तेमाल अधिकतर कंपनियों और बिजनस बढ़ाने के लिए किया जाता है।

लेकिन कुछ वजह है जिनके कारण गूगल ने Google Plus को बंद करने का फैसला किया है। तो आइए हम उन वजहों को बताते है। गूगल प्लस को बंद करने की मुख्य वजह यह है की इसको बनाने से लेकर इसके प्रबंधन में ढेर साडी अड़चने थी जिसको गूगल ने ग्राहकों के सोच के तौर पर ही तैयार किया था किन्तु इसका इस्तेमाल बहुत कम किया जाता था।

कुछ महीने पहले फेसबुक के 8.7 करोड़ यूजर्स का डेटा लीक हो गया था ये न्यूयोर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट से पता चला। जिससे फेसबुक की बहुत शिकायते हुई। फिर जून 2018 में ये सुचना मिली की फेसबुक के सॉफ्टवेयर में किसी तरह की गड़बड़ी हो गई थी जिसके कारण लगभग डेढ़ करोड़ यूजर्स का डेटा लीक हो गया था।

ये थी गड़बड़ी

फेसबुक के प्राशवेसी में गड़बड़ी आ जाने की वजह से यूजर्स की प्राइवेट पोस्ट भी पब्लिक हो जा रही थी, चाहे यूजर्स ने कोई भी प्राइवेट सेटिंग की हो जैसे ओनली मी या फ्रेंड्स ही क्यों न सेलेक्ट किया हो।

Share this on