अलविदा 2018 : ये खास शख्सियतें याद रखेंगी काशी की मेहमाननवाजी को

सभी लोगों को पता है कि काशी के लोग अपने अतिथियों का सत्कार बड़े खुशी और उत्साह के साथ करते हैं।इस साल काशी वालों को आतिथ्य सत्कार का बहुत मौका मिला। यहां देश विदेश से बहुत सारे बड़े बड़े मेहमान आए और यहां की मेहमाननवाजी से काफी प्रसन्न भी हुए। इस बार मार्च के महीने में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैंक्रो, जर्मनी के राष्ट्रपति फ्रैंक वाल्टर स्टाइनमायर यहां आए और और वे यहां के खाने – पीने और आतिथ्य सत्कार से काफी प्रसन्न भी हुए थे और वहीं कई फिल्मी हस्तियां भी यहां पर आ कर यहां के सम्मान से काफी प्रभावित हुए थे।

इमैनुएल मैंक्रों जब 12 मार्च को यहां पहुंचे थे तो वे वाराणसी के अस्सी घाट से ले कर दशाश्वमेध तक नौका विहार भी किया। घाट के किनारे के लोगों ने उनके सत्कार में जगह जगह पर कहीं संगीत तो कहीं नृत्य का आयोजन कर उनका स्वागत किया और इस सत्कार से अतिथि काफी प्रसन्न हुए थे। दूसरी तरफ 22 मार्च को जर्मनी के राष्ट्रपति फ्रैंक वाल्टर स्टाइनमायर काशी पहुंचे और वहां पहुंचने के बाद अस्सी घाट पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी देखा और नौका विहार भी किया। आपको पता ही होगा कि हर साल काशी में देव दीपावाली का आयोजन होता है।लेकिन इस बार की जो देव दीवाली 22 नवंबर को मनाई गई थी वो कुछ खास तरीके से मनाई गई।

सरकार ने इसके लिए 50 लाख रु खर्च किए थे। इस बार को देव दिवाली में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , राज्यपाल रामनाईक के अतिरिक्त पर्यटन मंत्री भी शामिल थे। काशी स्थित भैंसासुर घाट पर लेजर शो का आयोजन हुआ तथा अन्य घाटों पर भी सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। यहां फिल्म इंडस्ट्री के भी कलाकार आए थे और उन्होंने इस कार्यक्रम में शिरकत भी किया । 2018 के जनवरी महीने में ही ऋतिक रौशन भी अपनी फिल्म सुपर 30 की शूटिंग के लिए काशी पहुंचे थे।फिर 9 अक्टूबर को दक्षिण भारत के चर्चित कलाकार रजनीकांत भी पधारे।

यह भी पढ़ें : काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने से पहले जरूर जान लें ये बात वरना होगा पछतावा

इसके साथ साथ 22 नवंबर को देव दीपावाली के शुभ अवसर पर अनिल कपूर भी आए थे । उसके बाद 22 दिसंबर को भारतीय सुप्रसिद्ध अभिनेत्री हेमा मालिनी भी मार्कंडेय महोत्सव में पहुंची तथा उन्होंने वहां दुर्गा नृत्य नाटिका की प्रस्तुति की तथा अगले दिन 23 दिसंबर को नौका विहार भी किया। फिर वहां कचौड़ी जलेबी तथा चाय तक का लुत्फ उठाया।

जिस दिन हेमा मालिनी काशी पहुंची थीं उसी दिन अनुपम खेर भी वहां पहुंचे थे। वहां उन्होंने पूजा अर्चना कर वाराणसी के खान – पान का भी लुत्फ उठाया। इनके अतिरिक्त अपनी फिल्म की शूटिंग के लिए आफताब शिवदासानी और लवयात्री के कलाकार आयुष शर्मा के साथ वारिना हुसैन भी वहां शामिल हुए थे।

Share this on