अब गोवा वाला मज़ा लीजिये अपने बनारस में, गंगा की लहरों पर मिलेगा क्रूज का आनंद

बहुत ही जल्द अब आप भोलेनाथ की नगरी “काशी” में भी हर उस तरह का लुफ्ट उठा सकेंगे जिसके लिए आप गोवा और अन्य जगहों पर जाते हैं। आपको बता दें की अब काफी जल्दी आपको यहाँ बाबा विश्वनाथ की नगरी में धर्म और मॉडर्निज्म का अनूठा मेल दिखने वाला है। असल में यहाँ काशी मे आने वाले सैलानी और श्रद्धालु अब बड़े ही खास अंदाज़ में गंगा की लहरों पर क्रूज में सवर हो कर भोलेनाथ का अभिषेक कर सकेंगे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की यह खास क्रूज कोलकता में तैयार किया गया और वही से 7 मई को वाराणसी के लिए रवाना भी कर दिया गया है। उम्मीद है की कल यानी की 20 मई के लगभग वाराणसी पहुंचने की संभावना है। बतया जा रहा है की इस शानदार क्रूज को तैयार करने वाले वाराणसी के ही रहने वाले विकास मालवीय हैं। उनका मानना है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के वाराणसी का सांसद बनने के बाद से काशी में कई सारे पॉजिटिव बदलाव आए हैं जो यकीनन एक बड़े बदलाव की तरफ संकेत दे रहे है।

शर्मनाक : वाराणसी में दर्दनाक हादसे के बाद शवों की हो रही है सौदेबाजी

देखा जाए तो वाराणसी अब एक हॉटेस्ट टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन चुका ह और इसे ही ध्यान मे रखते हुए गंगा की लहरों पर बनारस का ‘रस’ लेने का तरीका भी बदलना चाहिए। कुक इसी तरह की सोच के साथ विकास मालवीय और उनकी टीम ने ‘अलकनंदा काशी’ नाम के इस लक्जरी क्रूज को तैयार किया है।

ऐसा माना जा रहा है की इस क्रूज के वाराणसी पहुंचने के बाद यहां के टूरिज्म की तस्वीर बदल भी काफी हद तक जाएगी जबकि दूसरी तरफ यहाँ आने वाले तमाम विदेशी टूरिस्ट्स को भी वेस्टर्न कल्चर के हिसाब से क्रूज में गंगा के घाटों का अद्भत दर्शन करने का और भी बेहतर एहसास मिलेगा।

आपको बता दें की इस क्रूज के साथ ही आ रहे वैज्ञानिक व फोटोग्राफर प्रियोनील बासु ने बताया कि इस क्रूज में तमाम तरह की आधुनिक सुविधाएं भी मौजूद हैं। उन्होने यह भी बताया की इसकी सेफ्टी फीचर पर खास ध्यान रखा गया है। इसके साथ ही एक सर्विस बोट भी है। यह सर्विस बोट इमरजेंसी की सिचुएशन में लाइफ बोट का काम करेगी, इसके अलावा इस लक्ज़री क्रूज में पर्य्पात संख्या में लाइफजैकेट्स और लाइफगार्ड्स भी होंगे।

 

इसके अलावा यह क्रूज टूरिस्ट्स को गंगा की लहरों पर बनारस के घाट और आसपास के टूरिस्ट स्पॉट के दर्शन भी कराएगा। ऐसा भी बताया जा रहा है की ये वाराणसी से चुनार तक सफर पर भी जाएगा। इससे इन दोनों जगहों के बीच में पड़ने वाले टूरिस्ट डेस्टिनेशन भी पॉपुलर होंगे। फिलहाल आपको बता दें की इस क्रूज को अस्सी घाट से चलाये जाने की योजना है। क्रूज अस्सी घाट से टूरिस्ट्स को लेकर शानदार गंगा आरती दिखाते हुए राजघाट तक जाएगा और फिर वहां से वापस आएगा।

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *