Friday, December 15

यूएन में गरजी भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, ‘आतंकिस्तान’ का किया सर्जिकल स्ट्राइक

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज संयुक्त राष्ट्र में महासभा को संबोधित करते हुए शनिवार को आतंकवाद को पनाह देने वाले पाकिस्तान को खूब लताड़ा। महासभा में संबोधित करते हुए भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आतंकवाद के मुद्दे को लेकर पाकिस्तान की बखिया उधेड़ दी, उन्होंने कहा कि बेगुनाहों का खून बहाने वाला पाकिस्तान हमें मानवाधिकार का पाठ पढ़ा रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज दूसरी बार संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित कर रही है। ज्ञात है की पिछली बार की तरह इस बार भी सुषमा हिंदी में भाषण दिया।

 

बता दे की कल भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यूएन महासभा में अपने 17 मिनट के भाषण के दौरान पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा। सुषमा पूरे भाषण के दौरान करीब 10 मिनट तक आतंकवाद और पाकिस्तान द्वारा उसे बढ़ावा देने की गलत नीतियों पर बोलीं। सुषमा ने आतंकवाद का मुद्दा उठाते हुए कहा कि हम आतंकवाद को रोकने की कोशिश कर रहे हैं, जबकि पाकिस्‍तान जैसे देशों को आतंकवाद और आतंकियों को पालने में मजा आता है।

भारतीय विदेश मंत्री ने संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा को संबोधित करते हुए कहा कि गरीबी को दूर करना टिकाऊ विकास का पहला लक्ष्‍य है। अपने भाषण की शुरुआत करते हुए सुषमा ने कहा, ‘हमारे लिए यह गर्व और प्रसन्‍नता का विषय है कि हम विदेशमंत्रियों में एक विदेश मंत्री आज इस उच्‍च आसन के लिए चुना गया है।’ सुषमा ने कहा, नोटबंदी भ्रष्टाचार से उपजे ‘कालेधन’ को चुनौती देने की दिशा में उठाया गया साहसिक फैसला था। सुषमा ने पाकिस्तानी नेताओं से कहा कि वे इस पर आत्ममंथन करें कि भारत क्यों वैश्विक आईटी महाशक्ति के तौर पर जाना जाता है और पाकिस्तान की पहचान ‘आतंकवाद के निर्यात के कारखाने’ की है।

 

अपने भाषण के दौरान सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हम गरीबी से लड़ रहे है लेकिन पाकिस्तान हमसे लड़ रहा है। पाक पीएम ने हम पर कई आरोप लगाए, पाकिस्तान पीएम हमें इंसानियत का पाठ पढ़ा रहे थे, बेगुनाहों का खून बहाने वाला पाकिस्तान हमें मानवाधिकार का पाठ पढ़ा रहा है। पीएम मोदी ने शांति और नीयत की राह दिखाई थी, मोदी ने दोस्ती का हाथ बढ़ाया था मगर पाकिस्तान हर बार की तरह इस बार भी अपनी आतंकी नीति अपनाते हुए सामने से कुछ और पीछे से कुछ करता आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: