Monday, December 18

फिल्म पद्मावती के 1 दिसम्बर को रिलीज़ होने पर लगी रोक

संजय लीला भंसाली की आगामी फिल्म पद्मावती को लेकर जो विरोध उत्पन्न हुआ है वो थमने का नाम ही नहीं ले रहा है | एक बातचीत में कर्णी सेना के संरक्षक ने यह बात साफ कही है की किसी भी सूरत में फिल्म पद्मावती नहीं चलने दी जाएगी। कड़ा विरोध जताते हुए 1 दिसंबर को भारत बंद रहेगा|

फिल्म को लेकर लगातार हो रहे विरोध के बीच फिल्म निर्माता कपंनी VIACOM18 ने फिल्म की रिलीज डेट बदलने का फैसला किया है। हालांकि फिल्म कब रिलीज होगी इस बारे में अभी कोई सूचना नहीं मिली है लेकिन ये तो तय हो गया है की ये फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज नहीं होगी|

भंसाली की फिल्‍म पद्मावती, जिसकी अभी शूटिंग ही चल रही है,जयपुर के राजपूत कर्णी सेना के साथ ही तमाम सामाजिक संगठनों ने विरोध में अपनी कमर कस ली है और इस फिल्म  पर राजपूत करणी सेना का आरोप है कि संजय लीला भंसाली की इस फिल्‍म में रानी पद्मावती और  अलाउद्दीन खिलजी के बीच कथित रूप से फिल्माए जा रहे लव सीन्स जो जो स्त्री अस्मिता के खिलाफ है इससे उन्‍हें आपत्ति है| हालांकि एक खबर के मुताबिक यह लव सीन एक ड्रीम सीक्‍वेंस के रूप में फिल्माई गयी है |

यह भी पढ़ें: आखिर कौन थी रानी पद्मावती, जानिए क्‍या था इनका इतिहास

फिल्म को लेकर विवादों और स्त्री अस्मिता के लिए सभी सामाजिक संगठन के विरोध के बाद अब यूपी सरकार ने भी यह कहते हुए केंद्र सरकार को पत्र लिखा है कि फिल्म का रिलीज होना शांति व्यवस्था के लिए  बड़ा खतरा हो सकता है। यह पत्र यूपी के गृह विभाग ने केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण सचिव को लिखा है। पत्र में फिल्म की कहानी और ऐतिहासिक तथ्यों को कथित रूप से तोड़-मरोड़ कर पेश किए जाने की बात कहते हुए इस संबंध में केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सेंसर बोर्ड) को अवगत कराने का अनुरोध किया गया है।म

कुछ सूत्रों के मुताबिक यह बात भी  सामने आई है की फिल्म के निर्देशक भंसाली जी और दीपिका पादुकोण जो फिल्म में मुख्य भूमिका अदा कर रही है उन्हें जयपुर में राजपूत करणी सेना नाम के एक संगठन के सदस्यों के द्वारा धमकियाँ मिली है और कई सारे फिल्म के सेट भी तोड़ दिए गए हैं जिसके चलते मुंबई पुलिस ने उनकी सुरक्षा कड़ी कर दी है जिसकी वजह से कई फ़िल्मी हस्तियाँ फिल्म के समर्थन में आगे आई है और इसे रचनात्मक आजादी पर हमला का आरोप लगाया है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *