कल है सर्वपितृृ अमावस्या पर जरूर करेंं ये उपाय, मन की हर मुराद तुरंत होगी पूरी

9 अक्तूबर को पितृ पक्ष समाप्त होने वाली हैं और इसी दिन अमावस्या भी जिसे सर्वपितृ अमावस्या भी कहते हैं| यह अमावस्या भी बहुत ही ज्यादा उन लोगों के लिए खास होती हैं जो पितृ पक्ष के समय अपने पितरों के लिए कुछ भी नहीं कर पाये हैं| वे लोग इस अमावस्या का लाभ उठा सकते हैं और इस अमावस्या के अगले ही दिन से नवरात्र की शुरुआत होती हैं| आज हम आपको एक उपाय बताने जा रहे हैं जिसको करने से आपके ऊपर से पितृ दोष समाप्त हो जाएगा| यह उपाय उन लोगों के लिए हैं जिन्होने अभी तक अपने पितरों के लिए कुछ नहीं किया हैं| वो लोग इस उपाय को करके पितृ दोष लगने से बच सकते हैं या जिनके कुंडली में पितृ दोष उत्पन्न हो गया हैं|

यह भी पढ़ें : इन राशि वाले लोगों को भूल से भी नहीं पहनना चाहिए काला धागा

इस उपाय को करने के लिए एक कच्चा नारियल लीजिये परंतु इस बात का ध्यान रखे की यह नारियल पानी वाला ना होकर सूखा वाला होना चाहिए| अब इसे ऊपर से काट दीजिये और नारियल के अंदर शक्कर भर देनी हैं| अब अपनी लंबाई के जितना लाल धागा उस नारियल के ऊपर बांध दे| यह लाल धागा उसी व्यक्ति के लबाई का हो जिसके लिए यह उपाय आप कर रहे हैं| यह उपाय उसी व्यक्ति के लिए की जाती हैं जिसके ऊपर बहुत सारी मुसीबतें या उसके जीवन मेन बहुत सारी बाधाएँ आती हैं| इसके लिए आप कलावा भी ले सकते हैं यानि की जिन मंदिरों के धागो को हम हाथों में बांधते हैं|

अब इस नारियल को किसी भी पीपल के पेड़ के नीचे गड्ढा खोद कर इस नारियल को उसी के अंदर रख दे| लेकिन इस बात का ध्यान देना हैं कि जो भाग नारियल का खुला हैं उसे ऊपर की ओर रखना हैं और वो नारियल ऊपर से थोड़ा दिखाई भी दे| इसके अलावा उस नारियल के साथ आपको एक मिट्टी के बर्तन में पानी भी रखना हैं| यह उपाय सिर्फ सर्वपितृ अमावस्या को ही करना हैं| यह उपाय आपको सूरज ढलने के पहले ही करना हैं| दरअसल यह अमावस्या इसलिए भी खास हैं क्योंकि यह मंगलवार को पड़ रहा हैं| इसके अलावा इसे करने से आपकी मनोकामनाएँ भी पूरी होंगी|

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on