Thursday, January 18

शरीर के इस अंग पर भूल से भी न पहनें सोना, बन सकता है आपके दुर्भाग्य का कारण

हमारे हिन्दू रश्मो रिवाजो में शुरू से ही लोग का आकर्षण सोने के आभूषणों को पहनने में रहा है। हर महिला सोने के आभूषण पहनना चाहती है। हमारे देश में सोना चाहे कितना भी महंगा क्यों न हो लेकिन उसके मांग में कोई कमी होती नही है। लोग सोने को जरुर खरीदते है। पहले के समय में लोगो को सोने के लिए इतने पैसे नही चुकाने पड़ते थे, जितने अब चुकाने पड़ते है। लगभग सारी भारतीय महिलाये सोने के आभूषण जरुर पहनती है लेकिन आपने कभी यह सोचा है कि सोना पहनना आपके लिए शुभ है की नहीं।

असल में हम ऐसा इसलिए कह रहे है क्योकि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार प्रत्येक धातु का हमारे जीवन पर प्रभाव पड़ता है। हर धातु किसी न किसी ग्रह से जुड़ा हुआ होता है। चाहे वो सोना हो, तम्बा हो, हिरा हो, चाँदी हो या प्लैटिनम आदि हो ये सभी हमारे जीवन में सुख-सम्पति ला सकती है या हमारे जीवन को बुरी तरह प्रभावित कर सकती है। यदि आप भी सोने के आभूषण पहनना पसंद करते है, तो आपको इन बातो का जरुर ध्यान देना चाहिए सोना आपको कैसे पहनना चाहिए? जिससे वो आपके दुर्भाग्य का कारण न बने।

तो चलिए आज हम आपको यह बताते है कि सोना हमें किस तरह पहनने से हमारे दुर्भाग्य का कारण बन सकती है

हमारे समाज में जो लोग सोना पहनते है, उन्हें काफी प्रतिष्ठावान माना जाता है और समाज में उनकी काफी इज्जत भी की जाती है। साथ ही शास्त्रों में यह काफी पवित्र माना गया है इसलिए आपको सोने के अभुषण कभी भी अपने उल्टे यानि बाँए हाथ में नही पहनना चाहिए। चाहे वो महिला हो या पुरुष हमेशा आपको सोना सीधे यानि दाहिने हाथ में ही पहननी चाहिए। बाएँ हाथ में सोना पहनने से आपके लाइफ में कई समस्याएँ आ सकती है। सोने के आभूषण पहनने से हमारे शरीर में काफी उर्जा का प्रवेश होता है। इसका मतलब जो लोग ज्यादा क्रोध करते है, उन लोगो को सोना नहीं पहनना चाहिए। सोना उर्जा के साथ ही साथ हमें एकग्रता भी प्रदान करता है। यदि आप काफी ध्यान नही लगा पाते तो आप एकग्रता पाने के लिए अपने तर्जनी उंगली में सोना पहन सकते है।

यदि आपके दाम्पत्य जीवन में काफी लड़ाई झगड़े होते है। तो आप अपने गले में सोने की चैन जरुर धारण करे। इससे आपके जीवन में सुख शांति बनी रहेगी। यदि आपको संतान नही हो रही है, तो आपको अनामिका उंगली में सोना जरुर धारण करना चाहिए। ज्योतिष के अनुसार सोना संतान योग को रोकने वाले सभी ग्रहों को दूर कर देता है। और यदि आपकी संतान गलत रास्ते पर है और उसके लक्षण ठीक नहीं लग रहे हो तो आप अपने लड़के को सोने का छल्ला या ब्रेसलेट जरुर धारण करवाए। यह आपके बच्चो को सफलता प्रदान करेगी और बुरे रास्तो पर जाने से भी रोकेगी।

यह भी पढ़े : 31 दिसंबर से पहले अपने घर से हटा दें ये चीजें, नए साल में होगा महालक्ष्मी का आगमन

सोना पिला होने के कारण यह बृहस्पति को काफी प्रभावित करता है। इसका प्रयोग करने से घर में सुख-सम्पति और धन का वास हो जाता है। लेकिन आपके कुंडली में बृहस्पति गलत स्थान पर हो तो आपको सोना नहीं पहनना चाहिए। यह आपके लिए अशुभ होने के साथ साथ आपके लाइफ में काफी दिक्कतों को भी लाता है। यदि कोई महिला गर्भवती हो या बूढी हो तो उनको सोना नहीं पहनना चाहिए। ऐसे लोग कभी कदार सोना पहन सकते है लेकिन रोज न पहने। ऐसा करने से आप काफी परेशानियों में पड़ सकते है।

सोना किसी को दान देना या गिफ्ट में देना काफी शुभ माना गया है लेकिन सोना कभी भी किसी अनजान व्यक्ति को नहीं देना चाहिए। ऐसा करने से आपको सेहद से जुडी काफी समस्याएँ हो सकती है। यदि आपको सर्दी-जुकाम या साँस से सम्बंधित कोई बीमारी हो तो आपको सोना कनिष्ठका उंगली में पहनना चाहिए। वहीँ जिन लोगो को दर्द और मोटापे की समस्या हो उन लोगो को भूलकर भी सोना धारण नहीं करना चाहिए। जिन्हें क्रोध आता हो उन्हें भी सोना नहीं पहनना चाहिए। आपने ऐसे कई लोगो को देखा होगा जो अपने पैरो में सोने के आभूषण पहनते है लेकिन हम आपको बता दे की शास्त्रों में सोने को एक पवित्र वस्तु माना गया है। इसलिए सोने को कभी भी पैरों में धारण नहीं करना चाहिए। यदि आपका बृहस्पति कमजोर है तो आप ऐसा कतई न करे। यह आपके लिए काफी मुसीबत की वजह बन सकती है।

यह भी पढ़ें : पत्नियों के 5 ऐसे गहरे राज जिसे वो किसी को भी नहीं बताती, अपने पति को भी नहीं

इसी प्रकार कई लोग सोने की चैन या अन्य आभूषण कमर में पहनना पसंद करते है लेकिन हम आपको बता दे। सोने को कमर पर नहीं पहनना चाहिए क्योकि यह आपके पाचन तंत्र को काफी प्रभावित करता है। पेट से सम्बंधित समस्याएँ आपको अक्सर बनी रहती है तो सोने के आभूषण कभी भी कमर पर धारण न करे। साथ ही जो लोग शराब और मांस का सेवन करते है। उन लोगो को भी सोना नहीं पहनना चाहिए। क्योकि इन्हें खाने से आप के अंदर काफी गर्मी बनी रहती है और सोना उस गर्मी को और ज्यादा बड़ा देती है।

महिलाओं को सोना अवश्य धारण करना चाहिए क्योकि जो महिलाए सोने की बलिया या झुमके नही पहनती है, तो यह माना जाता है कि उनमे स्त्री रोग, कान के रोग या डिप्रेशन आदि होने के लक्षण है। इसलिए महिलाओ को कान में सोने के आभूषण जरुर धारण करना चाहिए। सोना पहनने से जहाँ लाभ भी है तो उसके कई हानिया भी है। इसलिए सोने को पहनते समय इन बातो का जरुर ध्यान रखे। सोना जहाँ आपके भाग्य को जगा सकता है तो वहीँ सोना आपके दुर्भाग्य का कारण भी बन सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *