सचिन, सौरभ और द्रविड़ के बाद धोनी भी इस रिकॉर्ड लिस्ट में हुए शामिल, हासिल किया ये कीर्तिमान

37 वर्षीय पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 14 जुलाई, शनिवार को इंग्लैंड के खिलाफ खेले गये दूसरे ODI मुक़ाबले में अपने अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय करियर में 10,000 रन पूरा किया। इस ODI के पहले धोनी के 319 मुक़ाबलों में 9,967 रन थें लेकिन प्रतिष्ठित लॉर्ड्स स्टेडियम में भारत और इंग्लैंड के मध्य खेले गये मुक़ाबले के 43वें ओवर में 33वां रन पूरा करते ही उन्होनें 10,000 क्लब ज्वाइन कर लिया। ऐसा करने वाले वे चौथे भारतीय, दूसरे विकेटकीपर और विश्व के 12वें क्रिकेट खिलाड़ी बन गए। इसी मैच के दौरान धोनी आस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट (417), दक्षिण अफ्रिका के मार्क बाउचर (403) और श्रीलंका के कुमार संगकारा (402) के बाद 300 ODI कैच पूरा करने वाले चौथे विकेटकीपर भी बने।

आपको बता दें कि भारत की तरफ से सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ पहले से ही 10,000 क्लब में शामिल हैं। धोनी ने 10,000 रन बनाने के लिये सबसे कम गेंदे खेली हैं। उन्होनें 11,321 गेंदो में इस आँकड़े को पूरा किया। वहीं श्रीलंका के सनत जयसुरया ने इस आँकड़े तक पहुंचने के लिए 11,332 गेंदों खेली थी। पूर्व भारतीय कप्तान वर्तमान में ओडीआई में उच्चतम रन-गेटर्स की सूची में 12वें स्थान पर हैं।

ये भी जानें

बताते चलें कि कल तक श्रीलंका के कुमार संगकारा 14,234 रनों के साथ इस सूची में शामिल होने वाले एकमात्र विकेटकीपर बल्लेबाज थे। कुमार संगाकारा मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरा सबसे ज्यादा रन-गेटर है। इस सूची में भारत के 4 बल्लेबाज, श्रीलंका के 4 बल्लेबाज, आस्ट्रेलिया का एक बल्लेबाज, दक्षिण अफ्रिका का एक बल्लेबाज, पाकिस्तान का एक बल्लेबाज और वेस्ट-इंडिज का एक बल्लेबाज शामिल हैं।

यह भी बता दें कि एम एस धोनी ने 2004 में एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मुक़ाबले में पदार्पण के बाद 10,000 रन पूरा करने के लिये मात्र 273 पारियां खेली और उन्होनें 14 साल 159 दिनों में इस रिकार्ड को हासिल किया। इसके साथ ही धोनी 50 से अधिक औसत 51.30 के साथ ओडीआई में 10,000 रनों के क्लब में प्रवेश करने वाले पहले बल्लेबाज बने। इस सूची में धोनी के बाद संगाकारा का सबसे बेहतर औसत है।

( लगातार youthtrend के खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक और ट्विटर पर लाइक करें )
Share this on

Leave a Reply