Tuesday, November 21News That Matters

विश्व चैंपियनशिप के फ़ाइनल में पहुँच सिंधू ने देश को किया गौरवान्वित, पीएम मोदी ने दी बधाई

विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के फाइनल मैच देखकर ऐसा लगा की हाँ ये होता है फ़ाइनल। महिला एकल वर्ग के फाइनल में रियो ओलिंपिक-2016 की रजत पदक विजेता भारत की शीर्ष खिलाड़ी पी. वी. सिंधु का सामना जापान की नोजोमी ओकुहारा से था। आपको बता दे की भारतीय बैडमिंटन सनसनी के नाम से मशहूर साइना नेहवाल भले ही अपने बेहतर प्रदर्शन ना दे पायी हों मगर वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में ओलिम्पिक रजत पदक विजेता पी.वी. संधू ने भारत का सिर ऊंचा किया है। पहली बार फाइनल खेल रहीं सिंधु के इस स्वर्णिम सफर पर ओकुहारा ने लगाम लगा दी और सिंधु को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा।

बता दे की इससे पहले दो बार सिंधु को सेमीफाइनल से आगे बढ़ने के मौका नहीं मिला था मगर इस बार उन्होने विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ही ली जो की एक बहुत ही बड़ी उपलब्धि है। भारत की शीर्ष महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने चीन की चेन यूफेई को सेमीफाइनल में 21-13, 21-10 से हरा कर विश्व चैंपियनशिप के महिला एकल फाइनल के लिए क्वालीफाई किया था।

हालांकि सिंधु पहली बार इस चैम्पियनशिप में भारत को स्वर्ण दिलाने का इतिहास नहीं रच सकीं, लेकिन एक इतिहास रचने में सफल रहीं। ऐसा पहली बार हुआ है जब भारत को विश्व चैम्पियनशिप में दो पदक मिले हों। सायना नेहवाल ने शनिवार को कांस्य पदक जीता था जबकि रविवार को खेले गए फ़ाइनल मुक़ाबले में जापान की नोजोमी ओकुहरा के खिलाफ बेहद ही रोमांचकारी मुक़ाबले में संधु को करीबी हार का सामना करना पड़ा। बता दे की जापान की ओकुहारा ने सेमीफाइनल में भारत की साइना नेहवाल को हरा कर अपनी जगह पक्की की थी।

आपको बता दे की फ़ाइनल मुक़ाबले में संडु और नोजोमी ने एक दूसरे को कड़ी चुनौती दी। हालांकि आखिर में रोमांच के चरम पर तक पहुंचे मैच में जापानी खिलाड़ी ने 21-19, 20-22, 22-20 से जीत दर्ज करने में सफल हो ही गयी। आपको बता दे की 110 मिनट तक चले इस मैच को सबसे लंबा मैच बताया जा रहा है। खैर पी वी संधु के इस शानदार प्रदर्शन के बाद लगातार टिवीटर और अन्य सोशल माध्यम से बधाई के संदेश आने लगे। पीएम मोदी ने भी गर्व जताते हुए संधु को बधाई दी साथ ही सचिन तेंदुलकर, अमिताभ बच्चन, रणदीप हुड्डा समेत कई अन्य ने भी सिंधु के खेल से सम्मानित महसूश करते हुए उन्हे बधाई दी।

खैर फ़ाइनल मैच में संधु स्वर्ण तो नहीं जीत पायी मगर संधु का झुझारू खेल उन्हे पूरे विश्व में लोकप्रिय बना दिया है। असल में साइना के पिता और पीवी संधु की माँ उस समय हैरान रह गए जब विश्व चैंपियनशिप के बाहर एक “सरप्राइज़” प्रशंसक उनका लंबे समय से इंतज़ार कर रहा था। इनका नाम है टोनी मार्टिन, जो मौजूदा ओलिम्पिक चैम्पियन कैरोलिना की माँ है। बता दे की संधु और साइना की एक झलक पाने के लिए बाहर खड़े भारतीय प्रशंसकों के “फैन जोन” के बाहर खड़ी थी। उन्होने सिंधु और साइना के साथ सेल्फी और साइना के पिता और संधु की माँ के साथ तस्वीरे भी खिचवाईं।

Buy Reliance Jio Wi-Fi Jiofi3 http://amzn.to/2xJ76y2

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: