उस राजकुमारी के कारण पूरी जिंदगी कुंवारे रह गए हमारे अटल जी, जानें आखिर कौन थी वो

हम अपने जीवन में कुछ रिश्तो को बहुत ज्यादा अहमियत देते है और कुछ रिश्ते इतने पवित्र होते हैं कि उनको कभी कोई नाम नहीं देना चाहते| हर किसी के जीवन मे ऐसा होता हैं लेकिन कुछ ऐसा ही एक रिश्ता हमारे भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और एक राजकुमारी जी का था| वाजपेयी जी के साथ वो लंबे समय तक रहती थीं। अटल जी और उनके बीच क्या था, यह तो किसी को नहीं मालूम लेकिन इस रिश्ते को कभी कोई नाम नहीं मिला| लेकिन इतना जरूर था कि वो अटल जी के लिए खास थी।

कौन थी वो राजकुमारी जिससे अटल को था बेहद लगाव

अटल बिहारी वाजपेयी जी जब युवा थे औऱ ग्वालियर में पढ़ाई कर रहे थे। उनके साथ एक युवती भी पढ़ती थी, जीनका नाम राजकुमारी कौल था। यह उस समय का दौर था जब लड़का-लड़की का आपस में बात करना अच्छा नहीं माना जाता था।

जब अटल ने लिखा था लव लेटर, नहीं आया था कोई जवाब

माना जाता हैं की अटल जी राजकुमारी कौल से प्रेम करते थे और अटल जी अपने प्रेम कहानी को अंजाम तक पहुंचाना चाहते थे। अटल जी आकर्षक व्यक्तित्व वाले थे इसलिए उन्होने इस खूबसूरत राजकुमारी को एक प्रेम पत्र लिखा था। अटल जी ने इस प्रेम पत्र को लाइब्रेरी की एक किताब में रख दिया था। लेकिन अटल जी को इस लेटर का कोई जवाब नहीं मिला जिसकी वजह से अटल जी पूरी तरह टूट गये थे।

यह भी पढ़ें : एक ऐसा ट्विटर अकाउंट जिसके बजते ही पुलिस अधिकारीयों के छुटने लगते हैं पसीने

अटल को दिया था जवाब लेकिन मिला नहीं

‘अटल बिहारी वाजपेयी: ए मैन ऑफ ऑल सीजंस’ यह किताब अटल बिहारी जी के जीवन पर लिखी गयी है। इस किताब में लेखक किंगशुक नाग ने अटल की प्रेम कहानी के बारे में बताया है। राजकुमारी कौल ने सुनीता की जो उनकी सहेली थी को अपने और अटल जी के रिश्ते के बारे में बताया था।

राजकुमारी ने दिया था जवाब, अटल तक नहीं पहुंचा

एक बात के दौरान राजकुमारी ने सुनीता को बताया था कि अटल ने उनके लिए जो लव लेटर छोड़ा था। वो उनको मिल गया था। उसका जवाब भी राजकुमारी ने एक किताब में दिया था जो हां में था। लेकिन दुर्भाग्य वश यह जवाब अटल जी तक नहीं पहुंच सका। इसके बाद राजकुमारी कौल के पिता ने उनकी शादी एक युवा कॉलेज टीचर ब्रिज नारायण कौल से कर दी थी।

ग्वालियर में हुई थी राजकुमारी कौल की शादी

राजकुमारी कौल के परिवार के एक करीबी से पता चला हैं है कि वह अटल जी से शादी करना चाहती थीं। लेकिन जाति के कारण उनके घर में उनका जबरदस्त विरोध किया गया। अटल जी ब्राह्मण जाति के थे लेकिन कौल उस समय खुद को बहुत श्रेष्ठ जाती का मानते थे और इसी बीच परिवार ने उनकी शादी ग्वालियर में कर दी।

अटल ने कभी नहीं की शादी, फिर हुई मुलाकात

इस रिश्ते के टूटने से अटल जी इतने दुखी हुये कि उन्होंने जीवन भर शादी नहीं की। रिश्ता टूटने के बाद अटल जी ने अपना जीवन संघ सेवा और राजनीति में लगा दिया। अटल राजनीति में तरक्की करते गये और सांसद बन गये। कुछ समय बाद एक बार राजकुमारी कौल की मुलाकात अटल जी से हुई।

अटल बने विदेश मंत्री, कौल परिवार रहता था साथ

मोरारजी देसाई की सरकार के समय अटल बिहारी वाजपेयी विदेश मंत्री बने। उनको लुटियंस जोन में बंगला दिया गया था। मीडिया के मुताबिक उस समय कई लोग अटल जी से मिलने उनके बंगले में जाते थे, तब उनको कौल परिवार उसी बंगले में दिखता था।

पति की मौत के बाद अटल ने अपना लिया था परिवार

मीडिया के मुताबिक जब मिसेज कौल के पति की मौत हुई तब अटल जी ने उनकी बेटियों समेत पूरे परिवार को अपना लिया। 2014 में राजकुमारी कौल की भी मृत्यु हो गयी| कौल अंतिम सांस तक अटल जी के साथ रहीं। लेकिन अटल जी ने कभी भी इस रिश्ते को कोई नाम नहीं दिया|

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

 

Share this on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *