तंत्र शक्ति प्राप्ति के लिए अमावस्या का दिन होता है सबसे सही, करेंगे ये उपाय तो मिलेगी मनचाही सफलता

सर्वपितृ अमावस्या  यानि की पितृ पक्ष के अंतिम दिन अर्थात सर्वपितृ को सनातन धर्म में पितरों की तिथि माना गया है। ज्योतिष शास्त्र तथा धर्म ग्रंथों के अनुसार इस दिन घर के पितरों को संतुष्ट करने से व्यक्ति का बड़े से बड़ा दुर्भाग्य भी नष्ट हो जाता है। पितरों की कृपा से व्यक्ति न केवल लगातार तरक्की करता चला जाता है वरन उसकी घर-परिवार, समाज तथा आस-पास के माहौल में प्रतिष्ठा भी बढ़ने लगती है।

शास्त्रों के अनुसार तंत्र सिद्धि के लिए अमावस्या का दिन सबसे उपयुक्त माना जाता है और यदि कोई व्यक्ति अपने लिए तंत्र शक्ति और सिद्धियाँ प्राप्त करना चाहता है तो इस दिन कुछ उपाय करने से प्राप्त कर सकता है|आज हम आपको कुछ ऐसे ही अचूक उपाय बताने जा रहे हैं जिनके करने मात्र से ही इसका  असर दिखने लगेगा और व्यक्ति को सौभाग्य तथा सफलता के सर्वोच्च शिखर पर ले जाते हैं।

यह भी पढ़े :आज लगेगा साल का पहला चंद्रग्रहण, इसलिए भूल से भी न करें ये काम वरना होगा अशुुुुभ

अमावस्य के दिन के टोटके

पहला टोटका :

अमावस्या के दिन  किसी पीपल के वृक्ष की पूजा अवश्य करें इसके साथ ही इस दिन पीपल के  को जनेऊ व अन्य पूजन सामग्री अर्पित करें। इसके उपरांत भगवान विष्णु के  महामंत्र  ॐ नमो भगवते वासुदेवाय का जाप करें। ऐसा करने से श्रीहरि तथा मां महालक्ष्मी की कृपा आपके ऊपर बनेगी और घर की सभी परेशानियां दूर होकर धन वैभव , सुख-संपत्ति आनी आरंभ हो जाती है।


दूसरा टोटका :

सर्वपितृ अमावस्या अर्थात पितृपक्ष के अंतिम दिन में किसी भी वक्त , स्टील के लोटे में, दूध, पानी, काले और सफ़ेद तिल एवं जौ को एक साथ लोटे में  मिला ले, इसके साथ कोई भी सफेद मिठाई, एक नारियल, कुछ सिक्के, तथा एक जनेऊ लेकर पीपल वृक्ष के नीचे जाकर सर्व प्रथम लोटे की समस्त सामग्री पीपल की जड़ में अर्पित कर दे। इसके उपरांत इस मन्त्र का जाप करते रहे “ॐ सर्व पितृ देवताभ्यो नमः” |अंत में दिए गये  निम्न मंत्र का जाप करते हुए पीपल पर जनेऊ अर्पित करे ।

ॐ प्रथम पितृ नारायणाय नमः

इसके बाद  पीपल के वृक्ष के नीचे मिठाई, दक्षिणा तथा नारियल रखकर दो अगरबत्ती जलाकर “ॐ नमो भगवते वासुदेवाय” का जप करते हुए सात बार परिक्रमा करें। इन छोटे छोटे  उपाय से व्यक्ति के उअप्र  पितरों की कृपा प्राप्त होती है और उसे जीवन में मनचाही सफलता प्राप्त होती है।

 

Share this on

Leave a Reply